दाल रोटी चावल सदियों से नारी ने इसे पका पका कर राज्य किया हैं , दिलो पर , घरो पर। आज नारी बहुत आगे जा रही हैं सब विधाओं मे पर इसका मतलब ये नहीं हैं कि वो अपना राज पाट त्याग कर कुछ हासिल करना चाहती हैं। रसोई की मिलकियत पर से हम अपना हक़ तो नहीं छोडेगे पर इस राज पाट का कुछ हिस्सा पुरुषो ने होटल और कुछ घरो मे भी ले लिया हैं।

हम जहाँ जहाँ ये वहाँ वहाँ

Monday, February 15, 2010

दही बड़ा -- कुछ नए अंदाज में!

                आज कल तो फैट  फ्री - लो कैलोरी भोजन का जमाना आ गया है क्यों न हो , एक इतनी महंगाई और फिर इन सबसे बढती स्वास्थ्य की समस्यायों से दो चार तो हमीं को होना पड़ेगा. इसलिए फैट फ्री और लो कैलोरी के दही बड़े बनाने के लिए तैयार हो जाइए.




सामग्री:
१ कप उड़द की डाल
१ चम्मच इनो
कतरे हुए बादाम
कलि मिर्च के दाने
२० दाने किशमिश
५०० ग्राम दही
हींग, नमक  जरुरत के अनुसार
भुना जीरा पाउडर
खट्टी और मीठी चटनी.
 हरी धनियाँ की पत्ती 
प्रक्रिया:
दाल  को रात में पानी में भिगो दें. सुबह पानी निथार कर मिक्सी में अदरक , हरीमिर्च , हींग डाल कर पीस लें. पेस्ट निकल कर उसमें इनो और नमक डालकर फेंट लें. अब इडली के सांचे को तेल लगा कर चिकना कर लें और थोड़ा थोड़ा मिश्रण डालकर उसमें किशमिश और बादाम के टुकड़े लगा दें. इस इडली के सांचे को कुकर में पानी डालकर इडली की तरह से पका लें.  जब सारे बड़े तैयार हो जाएँ तो दही को अच्छी तरह से फेंट कर उसमें भुना जीरा , नमक और मिर्च पाउडर  मिला दें. 
                      इस मिश्रण में दही बड़े डुबो कर प्लेट में सजाएँ और ऊपर से भुना जीरा, मिर्च और हरी धनियाँ  की पत्ती डाल कर सजा दें. मीठी और खट्टी चटनी से स्वादानुसार खाएं और बताएं भी की कैसे लगे?

4 comments:

संगीता पुरी said...

कैसी लगी ये तो खाने के बाद ही बता पाएंगे .. पर आइडिया कमाल का है !!

रचना said...

chaliyae kuchh nayaa banaane ko to mila

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक said...

दही बड़ा बनाने की विधि नोट कर ली है!
होली पर बनायेंगे!

Mrs. Asha Joglekar said...

वाह ये तो कमाल की विधी है । मौज भी और सेहत भी । बनाना पडेगा ।