दाल रोटी चावल सदियों से नारी ने इसे पका पका कर राज्य किया हैं , दिलो पर , घरो पर। आज नारी बहुत आगे जा रही हैं सब विधाओं मे पर इसका मतलब ये नहीं हैं कि वो अपना राज पाट त्याग कर कुछ हासिल करना चाहती हैं। रसोई की मिलकियत पर से हम अपना हक़ तो नहीं छोडेगे पर इस राज पाट का कुछ हिस्सा पुरुषो ने होटल और कुछ घरो मे भी ले लिया हैं।

हम जहाँ जहाँ ये वहाँ वहाँ

Saturday, June 14, 2008

किशोर बच्चों की पाक कला : चपाती या बाज़ार की रोटी का पिजा

कभी कभी किशोर बच्चों को भी रसोई घर में जाने की छूट होनी चाहिए... हमारे दोनों बेटे कभी भी किसी भी समय रसोई घर में जाने के लिए आजाद हैं.. जैसे हम और हमारे पतिदेव... शुरू शुरू में बिखरा बिखरा सा लगेगा लेकिन जल्दी ही रसोई घर में जाने वाला समझ जाता है कि साफ सुथरी रसोई में दाखिल हुआ था सो साफ करके ही बाहर निकलना है...

चपाती या बाज़ार की रोटी - २-३
एक टुकडा - मज़रोला चीज़
तीन बड़े चम्मच - टमाटर का पेस्ट
स्वादानुसार - थायम /बासिल /ओर्गेनो (जो भी मसाला सुविधानुसार मिल जाए )

ओवेन की ट्रे में अल्मुनियम फोयल बिछा दें.... फ़िर उस पर दो चपाती या बाज़ार की रोटी जिसे यहाँ खुबुज़ कहा जाता है.
रख कर उस पर टमाटर का पेस्ट लगा दें.. चीज़ को ग्रेट करें
और समान रूप से ऊपर बिछा दें... फ़िर उस पर तीनों या कोई एक मसाला छिड़क दें... अगर तीनो मसाले नही हैं या आप नही डालना चाहते या तीखा स्वाद देना है तो कोई भी मिर्ची वाली सॉस डाल सकते हैं...


पहले से गर्म ओवेन में २-३ मिनट के लिए पकने दें ....
गैस पर भी नॉन स्टिक पेन रखकर एक एक करके हल्की आग पर चीज़ पिघलने तक पकाया जा सकता है बस हो गया होम मेड पिजा तैयार...
अब अगर बच्चे पहले दो निवाले खा भी लें तो कोई बात नही...बच्चे तो बच्चे हैं... हमें तो पिजा की खुशबू इतनी लुभा रही थी कि फौरन मुह में एक निवाला हमने भी डाल कर पिजा का आनंद लिया...

5 comments:

रचना said...

kehaan kehaan sae receipe laatee haen aap bhi wah wah wah

mehek said...

wow its so instant easy to mk and delicious to,thanks.pizza ke liye to hum mar bhi jaye:);):);)

Lavanyam - Antarman said...

Excellent suggestion to involve children ( of all ages ) in Kitchen :)
Pizza wo bhee Home Made ..tub der kis baat ki ...Thank you Minaxi ji ..for this easy recipe.

मीनाक्षी said...

रचना जी , महक जी ,,,अच्छा लगा कि आपको बेटे विद्युत का बनाया पिजा अच्छा लगा.. मैंने तो बस यहाँ पोस्ट किया है...
घर के सब लोग जब मिलजुल कर किचन में जाते हैं...तो कोई न कोई receipe किसी न किसी के दिमाग से निकल ही आती है...

anitakumar said...

वाह आप हमें टुनटुन बना के ही रहेगें। हम भी पिजा खा के टुन्न हो गये हैं