दाल रोटी चावल सदियों से नारी ने इसे पका पका कर राज्य किया हैं , दिलो पर , घरो पर। आज नारी बहुत आगे जा रही हैं सब विधाओं मे पर इसका मतलब ये नहीं हैं कि वो अपना राज पाट त्याग कर कुछ हासिल करना चाहती हैं। रसोई की मिलकियत पर से हम अपना हक़ तो नहीं छोडेगे पर इस राज पाट का कुछ हिस्सा पुरुषो ने होटल और कुछ घरो मे भी ले लिया हैं।

हम जहाँ जहाँ ये वहाँ वहाँ

Friday, February 20, 2009

खट्टे ढोकले

सामग्री – तीन कप चावल, एक कप उडद धुली, आधा कप खट्टा दही, हरी मिर्च, अदरक का पेस्ट, तीन चौथाई चम्मच सोड़ा बाय कार्ब, हींग, काली मिर्च, हरी धनिया।

विधि- चावल, दाल अलग-अलग भिगोएं, सुबह पीस लें। इस मिश्रण में खट्टा दही डालें एवं गरम पानी डालें। गाढ़ा पेस्ट बनाएं। छह-सात घंटे के लिए रख दें। खमीर के लिए। खमीर उठ जाए, तो सोड़ाबाय कार्ब, हींग, अदरक, मिर्च, नमक, मिला दें और फिर फेंटे। एक थाली पर रिफाइंड लगाकर किनारे वाले बर्तन में पेस्ट डाल दें। ऊपर से काली मिर्च बुरक दें। दस मिनट तक भाप में पकाएं। ऊपर से हरी धनिया डाल दें। बनने के बाद चाहें तो घिसा नारियल घिस कर डाल सकते है।

अधिक जानकारी के लिए http://www.healandhealth.com/ पर जायें।