दाल रोटी चावल सदियों से नारी ने इसे पका पका कर राज्य किया हैं , दिलो पर , घरो पर। आज नारी बहुत आगे जा रही हैं सब विधाओं मे पर इसका मतलब ये नहीं हैं कि वो अपना राज पाट त्याग कर कुछ हासिल करना चाहती हैं। रसोई की मिलकियत पर से हम अपना हक़ तो नहीं छोडेगे पर इस राज पाट का कुछ हिस्सा पुरुषो ने होटल और कुछ घरो मे भी ले लिया हैं।

हम जहाँ जहाँ ये वहाँ वहाँ

Monday, April 26, 2010

रायता -इन डिफरेंट स्टाइल

रायता -इन डिफरेंट स्टाइल

आजकल गर्मी बहुत ज्यादा है , ऐसे में दही और रायते के बिना तो दिन का खाना अधूरा है। अकसर रायते बनाते समय केवल बूंदी(पकौड़ी) ही ध्यान में आती है, लेकिन ऐसे बहुत से आसान रायते हैं जो तुरंत बन भी जाते हैं और जिनके लिए कोई खास तैयारी भी नहीं करनी पड़ती।




लौकी का रायता
१ लौकी मध्यम आकार की
दही 400 ग्राम
नमक स्वादानुसार (काला या सफेद)
लाल मिर्च एक चुटकी
काली मिर्च चौथाई चम्मच
भुना हुआ जीरा

विधि- लौकी को कद्दूकस कर लें, अब इसे हल्का उबाल लें या तो कुकर में एक सीटी दिलवा सकते हैं, या फिर किसी खुले बर्तन में एक दो उबाल आने दें। अब इसका पानी निचोड़ लें और ठंडी कर लें। दही मथ लें, इसमें नमक, मिर्च और जीरा मिला लें ,चाहे तो सूखा पोदीना भी हथेली पर मसल कर डाल सकतें हैं ये ग्रानिशिंग का काम भी करता है।

खीरे का रायता
बिलकुल ऊपर वाली विधि है बस यहां खीरे को कद्दूकस करके सीधा दही में डाल दें, उबालने की जरूरत नहीं है।

आलू और प्याज का रायता
उबले आलू अकसर फ्रिज में मिल ही जाते हैं। तो एक बड़ा उबला आलू , बारीक काट लें, 1 मध्यम आकार का प्याज भी बारीक काट लें। फेंटी हुई दही में आलू प्याज और वही ऊपर लिखे मसाले डाले दें, इस रायते को चिल्ड सर्व करें, वैसे ये मेरा फेवरेट रायता है।

फ्रूट रायता
दही
मिक्स फ्रूट्स (एपल, बनाना, अंगूर, पायनेपल, मैंगो, अनार )
चिल्ड दही में थोड़ी चीनी डालकर फेंट लें। चीनी आप अपने टेस्ट के अकार्डिंग डाल सकते हैं, अगर ज्यादा मीठा खाते हों तो ज्यादा और मेरी तरह कम मीठा तो बस नाममात्र। अब इसमें फ्रूट्स डाल लें और एकदम ठंडा सर्व करने से पहले रूहअहफजा और अनार के दानो से गार्निश करें।
यही सेम रेसिपी आप पाइनेपल रायता के लिए भी यूज कर सकते हैं।

2 comments:

रचना said...

soya bean kae nuggets jo boodi ki size kae hotey haen unka raytaa bhi laa jwaab hotaa haen

Mrs. Asha Joglekar said...

Wah jee wah muh men pani aa gaya.