दाल रोटी चावल सदियों से नारी ने इसे पका पका कर राज्य किया हैं , दिलो पर , घरो पर। आज नारी बहुत आगे जा रही हैं सब विधाओं मे पर इसका मतलब ये नहीं हैं कि वो अपना राज पाट त्याग कर कुछ हासिल करना चाहती हैं। रसोई की मिलकियत पर से हम अपना हक़ तो नहीं छोडेगे पर इस राज पाट का कुछ हिस्सा पुरुषो ने होटल और कुछ घरो मे भी ले लिया हैं।

हम जहाँ जहाँ ये वहाँ वहाँ

Tuesday, May 4, 2010

ग्रेवी वाले कच्चे केले के कोफ्ते

कच्चे के कोफ्ते

कच्चे केले मीडियम साइज़
आधा कटोरी बेसन भुना हुआ
टमाटर पीसे हुए
प्याज पीसे हुए
- लहसुन के जावा पीसे हुए
- हरीमिर्च पीसी हुई
टमाटर बारीक कटे हुए
छोटी चम्मच पीसी हल्दी
छोटी चम्मच पीसी धनिया
/ छोटी चम्मच पीसी लाल मिर्च
नमक स्वाद अनुसार
बड़ी चम्मच ताज़ी मलाई
डीप फ्राई करने के लिये धारा या कोई भी तेल
छोटी चम्मच देसी घी

कच्चे केले को धोकर तीन तीन टुकडो मे काट ले बिना छिलका उतारे अब इनको कुकर मे प्रेशर कुक करले यानीउबाल ले कच्चे केले गलने मे समय लेते हैं सो थोड़ा ज्यादा प्रेशर कुक करे
उबाल लेने के बाद छिलका अपने आप उतर जाता हैं और यही पहचान होतीहएं कि केला उबल गया
छिलका अलग कर के कैलो को मैश कर ले और इसमे बहना हुआ बेसन मिला ले इसमे नमक और पीसी लालमिर्च {अप्पर दिये हुए कि आधी के अनुपात से } डाले और इनके गोल कोफ्ते बना ले
इन कोफ्तो को डीप फ्राई कर ले , ये ज्यादा लाल नहीं होगे इसलिये ध्यान देना होगा कि गोल्डन होना ही इनका फ्राईहो जाना होता हैं
ग्रेवी के लिये एक कढ़ाई मे धारा डाले { - चम्मच } उसमे पीसा हुआ प्याज , टमाटर मिर्च और लहसून डाल करभुने हलका भुन जाने पर कटा हुआ टमाटर और मसाले डाले अब इसमे थोड़ा पानी डाले और फिर भुने इसमेमिक्स मे अब मलाई डाल कर थोड़ा पानी और डाले और फिर इसमे कोफ्ते भी डाल दे और देसी घी भी उसी समय डाले । इस पूरे मिक्स को तबतकभुने जबतक ये घी ना छोड़े इसके बाद इसमे पानी डाले और ग्रेवी को उबाल दे ताकी कोफ्ते मे "रसा" या "ग्रेवी " रहे
कुछ देर इसको धीमी आंच पर उबलने दे और फिर परस ले इसमे हरा धनिया या हरा पोदीना बुरक ले

चावल , रोटी या पराठा ये ग्रेवी वाले कच्चे केले के कोफ्ते सब को पसंद आयेगे

6 comments:

फ़िरदौस ख़ान said...

एक ज़ायकेदार पोस्ट है... बहुत काम की जानकारी है...

Mrs. Asha Joglekar said...

काफी जोरदार लग रही है ये रेसिपी ।

महफूज़ अली said...

ummm........ yummy......... very delicious post.... कल मैंने कह दिया है अपने घर में यही ट्राई करने को.... मेरी सिस्टर ने पूरी पोस्ट का प्रिंट आउट ले लिया है.... कल आपको बताता हूँ पूरी रिपोर्ट....


Regards.....

indu puri said...

वाह एक और संजीव कपूर खाना खजाना
गरमी कीछुत्तियों में बिटिया को बीजी रखने का शानदार रास्ता मिल गया.
थेंक्स जी.
मैं तो काम चोर हूँ ,पर वो नही.
हा हा हा

प्रभाकर पाण्डेय said...

बहुत-बहुत धन्यवाद आपका जो इतनी अच्छी रेसिपी बनाई। हम भी बनाएँगे।

सादर।।

neelima sukhija arora said...

post padhne mein hi bahut achi lag rahi hai, chaliye 1-2 din mein try karte hain rachnaji.