दाल रोटी चावल सदियों से नारी ने इसे पका पका कर राज्य किया हैं , दिलो पर , घरो पर। आज नारी बहुत आगे जा रही हैं सब विधाओं मे पर इसका मतलब ये नहीं हैं कि वो अपना राज पाट त्याग कर कुछ हासिल करना चाहती हैं। रसोई की मिलकियत पर से हम अपना हक़ तो नहीं छोडेगे पर इस राज पाट का कुछ हिस्सा पुरुषो ने होटल और कुछ घरो मे भी ले लिया हैं।

हम जहाँ जहाँ ये वहाँ वहाँ

Sunday, January 18, 2009

कॉर्न फ्लेक्स का उपमा

पैसे बचाने के चक्कर में सस्ता कॉर्न फ्लेक्स ले आया। अब मुझे दूध से ज़्यादा प्यार है नहीं, तो अगर कॉर्न फ्लेक्स भी अच्छा न हो, तो मैं उसे खा नहीं सकता। अब हैल्थ भी देखनी है और पसंद-नापसंद भी तो कुछ तो करना ही पड़ेगा न। सो केलोग्स का केले वाला कॉर्न फ्लेक्स लाया जो मुझे अच्छा लगता है :)
अब इस पुराने कॉर्न फ्लेक्स का कुछ तो करना था, सो मैंने इसका उपमा बना डाला। सिंपल होता है।
कॉर्न फ्लेक्स को थोड़ी देर पानी में भिगो दीजिये। करीब १० मिनिट। इसके बाद पानी निकाल दीजिये। वैसे ही जैसे पोहा बनते समय चिवडे के साथ करते हैं। चाहे तो थोड़ा सा मसल लीजिये।

आप इसको पोहा या उपमा कुछ भी बनने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। बनने के बाद हल्का सा फ्लेवर आता है कॉर्न फ्लेक्स का, उसको छिपाने के लिए सॉस प्रयोग कीजिये या बनाते समय ही नमक वगैरह उचित मात्रा में डाल लीजिये।

अब हम हिन्दुस्तानी हैं, किसी चीज़ को बेकार क्यूँ फेंकेगे, कुछ न कुछ तो हर चीज़ का यूज़ कर ही लेते हैं न!

5 comments:

रचना said...

excellent receipe abhishek

संगीता पुरी said...

बहुत सुंदर....अनाज फेकना भी नहीं चाहिए।

Nirmla Kapila said...

बहुत जायके दार है शुक्रिया

Udan Tashtari said...

ट्राई करेंगे. आभार.

गरिमा said...

आज सुबह ही ट्राई किया, काफी अच्छा लगा... शुक्रिया