दाल रोटी चावल सदियों से नारी ने इसे पका पका कर राज्य किया हैं , दिलो पर , घरो पर। आज नारी बहुत आगे जा रही हैं सब विधाओं मे पर इसका मतलब ये नहीं हैं कि वो अपना राज पाट त्याग कर कुछ हासिल करना चाहती हैं। रसोई की मिलकियत पर से हम अपना हक़ तो नहीं छोडेगे पर इस राज पाट का कुछ हिस्सा पुरुषो ने होटल और कुछ घरो मे भी ले लिया हैं।

हम जहाँ जहाँ ये वहाँ वहाँ

Thursday, October 14, 2010

एक जानकारी चाहिये

भारत मे किस कंपनी का मिक्रोवेव ओवेन लेना चाहिये जिसमे
नान
रोटी
पराठा बनाया जा सके
केक
बिस्किट
ब्रेड बैक कि जा सके
और
सब्जियां , दाल इडली इत्यादि भी बन सके

मेरी सुविधा के लिये अगर आप ओवेन का नाम और मेक / कंपनी बता दे और तक़रीबन कितने मे मिलेगा ।

3 comments:

अशोक बजाज said...

बहुत अच्छी प्रस्तुति .

श्री दुर्गाष्टमी की बधाई !!!

रचना दीक्षित said...

मुझे तो पता नहीं है मैं तो ज्यादा चीजें माइक्रो वेव में नहीं बनाती वैसे इडली केक तो बनाती हूँ कोमबिनेशन कभी करके नहीं देखा. किचेन चेम्पियन प्रोग्राम में जो फिल्म स्टार वाला था एक दिन माइक्रो वेव कुकिंग में कोई अवन इस्तेमाल कर रहे थे जिसमे कह रहे थे की चीज ब्राउन भी होती है ऑन लाइन उस साईट को खोल कर देखें अगर कुछ जानकारी मिलें तो मुझे भी बताए मुझे भी कुकरी का शौक है बनाती भी हूँ कभी कभी सिखाती भी देती हूँ

gaurav said...

are you get this information? if yes please inform me.