दाल रोटी चावल सदियों से नारी ने इसे पका पका कर राज्य किया हैं , दिलो पर , घरो पर। आज नारी बहुत आगे जा रही हैं सब विधाओं मे पर इसका मतलब ये नहीं हैं कि वो अपना राज पाट त्याग कर कुछ हासिल करना चाहती हैं। रसोई की मिलकियत पर से हम अपना हक़ तो नहीं छोडेगे पर इस राज पाट का कुछ हिस्सा पुरुषो ने होटल और कुछ घरो मे भी ले लिया हैं।

हम जहाँ जहाँ ये वहाँ वहाँ

Tuesday, May 20, 2008

लेवेन्डर आइस क्रीम

लेवेन्डर आइस क्रीम और लेवेन्डर के फूल

लेवेन्डर आइस क्रीम!
जी हां , आजकल , दुनिया के मशहूर शेफ ,
माने उम्दा खानसामे, फूलों का प्रयोग ,विभिन्न , डीशिस बनाने में करने लगे हैं - लेवेन्डर का उपयोग रसोई और खास कर के बेकिंग में किया जा सकता है ।
जैसे आइस क्रीम या पुडीँग्ज़ में लेवेन्डर की खुशबु , मीठी बानगी को काफी बैलेंस करती है। पम्पकीन पाई जैसी मसालेदार खुश्बु को , शक्कर के साथ मिलाने से,
लेवेन्डर की खुशबु बहुत अच्छी लगती है। क्रीम, दूध, वेनीला मिलाने से लेवेन्डर की खुशबु उभरती है। इस रेसीपी में आप जायफल, दालचीनी व लवंग भी थोडा सी मिला सकते हैं , पुडीँग्ज़ में क्रीम ब्रुले भी बना सकते हैं -
जिसमें, ऊपर , शक्कर को जलाकर केरेमल का एक तह , बनाया जाता है।
नोट करें सामग्री :
१ कप शक्कर, २ चम्मच . लेवेन्डर की कलियाँ , ताज़ा या सूखी हुई --
१/ २ कप पानी , १/२ कप दूध
३ बड़े अंडे के योल्क्स ( पिला हिस्सा , सफेदी हटा के )
१ कप हेवी क्रीम, १ चम्मच प्योर वेनिला ऐसेन्स
विधि :
१ : पहले , शक्कर, पानी दूध और लेवेन्डर को हलके आंच पे , ५ मिनट तक
सोस पेन में गरम करिये २ . लेवेन्डर फूलों को निचोड़ लीजिये जिससे उनका रस आपको मिले
३ से ५ मिनट तक इसे ठंडा होने दीजिये । उसके बाद अण्डों की सफेदी हटाकर , सिर्फ़ पीला हिस्सा फेंट लीजिये उसी में दूध भी मिला लीजिये।
हल्की आंच पे ये सारा मिश्रण ,गेस पे, ये ठीक चलाते रहिये
तब तक , के जब् तक ये गाढा न होने लगे
और एक चम्मच लेकर उसपे , लगा के देखें के वो कितना गाढा हुआ है।
(१० मिनट जितना समय लगेगा।)
इस मिश्रण को अब ठंडा होने दीजिये।
फ़िर , उसी में, हेवी क्रीम और वेनीला ऐसेन्स मिला लीजिये
और रात भर इसे फ्रीज़र में रखिये ।
अब, इस मिश्रण को , झाग आए इस तरीके से , फेँटीये !
हवा का हिस्सा इसमें मिल जानेसे आपकी आइस क्रीम हल्की बनेगी ।
और अंत में , आपके पास आइस क्रीम मेकर है तौ उसी में फ्रीज़ करें
उतनी देरी तक जितना मेन्युफेक्चर ने निर्देश दीया है ।
आप , इसी तरह, अलग अलग , फलों से , या भारतीय काजू, किशमिश , या केसर पिस्ता बादाम मिलाकर या आम , चीकू , सीताफल को भी आपकी रेसीपी में आजमा सकते हैं ! या गुलाब के फूल की पँखुडियोँ से भी इस प्रकार का आइस क्रीम बना पायेंगे -- संभावनाएं कई हैं , कोशिश आपकी ..
~~ लावण्या

6 comments:

रचना said...

aap ki post per receipe kae allawa bhii bahut gyaanvaedhak "receipe" hotee haen . sadaa hee achchee hotee haen yae mithaas bahree baatey

mehek said...

aare wah itni garmi ke safar karne ke baad cool thada beautiful icecream,bahut hi achhi reveipe hai.

mamta said...

गर्मी मे ice cream से ज्यादा राहत देने वाली कोई चीज नही है। :)

लावण्या जी शुक्रिया।

रंजू ranju said...

बहुत ही ठंडी ठंडी रेस्पी है ..:) शुक्रिया इसको यहाँ शेयर करने के लिए

Udan Tashtari said...

आभार. ट्राई की जायेगी.

Lavanyam - Antarman said...

Thank you , jee
आप सभी का शुक्रिया -
जुरुर try कीजियेगा !
स्नेह्,
-लावण्या