दाल रोटी चावल सदियों से नारी ने इसे पका पका कर राज्य किया हैं , दिलो पर , घरो पर। आज नारी बहुत आगे जा रही हैं सब विधाओं मे पर इसका मतलब ये नहीं हैं कि वो अपना राज पाट त्याग कर कुछ हासिल करना चाहती हैं। रसोई की मिलकियत पर से हम अपना हक़ तो नहीं छोडेगे पर इस राज पाट का कुछ हिस्सा पुरुषो ने होटल और कुछ घरो मे भी ले लिया हैं।

हम जहाँ जहाँ ये वहाँ वहाँ

Thursday, July 3, 2008

समीर और अजीत/स्मिता ने तो हमारी गुहार सुन ली पर बाकी सब कब सुनेगे ??

Ashok Pande , Rajesh , अरुण

और सब दाल रोटी चावल ब्लॉग पर कब कोई रेसेपी प्रेषित करेगे ? व्यस्त हैं , समय नहीं हैं , नाम हटा दे, ये सब नहीं चलेगा । इतने दिन हो गए हैं हम सब को खाना परोसते । कुछ नया नहीं मिल रहा हैं ।
आप सब की किचन से हमें बड़िया बड़िया खुशबु आ रहीं हैं हम टेबल सजाए बैठे हैं, तबले बजाए जाते हैं पर वो स्वादिष्ट व्यंजन हम तक पहुंच नहीं रहे, अब परोस भी दिजीए न, पेट में चूहे दौड़ रहे हैं।

अनिता
रचना

6 comments:

Ashok Pande said...

अब सार्वजनिक हड़काई तो मत लगाइये प्लीज़. थोड़ा सा समय दीजिये. आज अजित भाई वाली पालक कोफ़्ता करी बना लूं. मैं तो वैसे भी ऑफ़िशियली कल ही आया हूं. कल जो बनाऊंगा उसकी फ़ोटू खींच के कुछ ज़रूर खिलाऊंगा. प्रॉमिस.

महेंद्र मिश्रा said...

आपके दाल चावल की खुसबू यहाँ तक पहुँच रही है . थोड़ा जायकेदार चीजो के बारे में भी बताये. धन्यवाद.

प्रभाकर पाण्डेय said...

नमस्कार। सुंदरतम लेखन के लिए साधुवाद।

पल्‍लव क. बुधकर said...

दादा (अजित जी) के हाथ का खाना खाने का कोई मौका मैं नहीं छोड़ता। केवल मैं ही नहीं सारे परिजन उनके रसोई में जाने का इंतज़ार करते हैं। पता है कि अगर वो रसोई में हैं तो फिर कोई बेहतरीन डिश खाने में मिलेगी।
फरमाइश है कि वो खिचड़ी (खिचड़ी दादा का और मेरा पसंदीदा व्‍यंजन हैं, शर्त यह कि बनाई दादा ने हो।), कटहल की और बैंगन की सब्‍जी की रेसिपी भी जल्‍दी पोस्‍ट करें।
स्मिता वहिनी (भाभी) से फरमाइश है कि वो राई के छौंक वाले रायते की रेसिपी जल्‍दी भेजें।

अजित वडनेरकर said...

पल्लव प्यारे , स्वागत है तुम्हारा भी इस राम रसोई में। तुम्हारी फर्माइश तो ज़रूर ही पूरी की जाएगी। और स्मिता को ताज्जुब है कि राई के छौंक वाला रायता उसके नाम से सबको पसंद आता है जबकि सीखा तो मुझसे ही है बनाना :)
बहरहाल अब उनकी इच्छा है कि वो बजाय मेरे मार्फत रेसिपी भेजने के सीधे ही रेसिपी भेजेंगी, बशर्त अनिताजी और रचनाजी उन्हें भी मेंबरशिप दे दें।

रचना said...

smita jii apna email address turant prashit karey , invite ek dam supar fast jaayega unkae raayteu mae chauk sae pehlae . email address yaa yaahn dae yaa jahaan likha haen sampark karey .